सिलिगुड़ी: पश्चिम बंगाल चुनाव में प्रचार के लिए सिलीगुड़ी पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी (नरेंद्र मोदी) बागडोगरा के हवाई अड्डे पर उतरे। प्लेन से उतरते ही उन्होंने एक व्यक्ति को गले लगा लिया। जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हो गई।

बाइक एगारेंस दादा के रूप में प्रसिद्ध

पीएम मोदी ने हवाई हमले पर जिस शख्स को गले लगाया, वह प्रसिद्ध समाजसेवी और पदमश्री अवार्डी करीमुल हकदार (करीमुल हक) थे। जलपाईगुड़ी क्षेत्र में उनकी पहचान बाइक एकारेंस दादा (बाइक एम्बुलेंस दादा) के रूप में है। उन्होंने गंभीर रूप से बीमार लोगों को तुरंत अस्पताल पहुंचाने के लिए अपनी मोटरसाइकल को बाइक एकर्न्स के रूप में बदल दिया था। उसके बाद से वे जलपुरी क्षेत्र में अब तक सैकड़ों रोगियों को समय पर अस्पताल पहुंचकर उनकी जिंदगी बचा चुके हैं। उनकी सेवाओं का सम्मान करते हुए केंद्र सरकार ने उन्हें पदमश्री अवार्ड देकर सम्मानित किया था।

इस तरह की बाइक एएरेंस का आइडिया आई

करीमुल हक चाय बागान में काम कर रहे थे, तभी उनके एक साथी की तबियत अचानक खराब हो गई और वह निधाल के साथ गिर पड़ा। उन्होंने एर्केन को फोन किया लेकिन उन्हें आने में काफी देर लग रही थी। यह देखता है कि करीमुल हक ने साथी को अपनी पीठ से बांधा और तीसरे साथी की मदद से बाइक चलाकर करीब 45 किमी दूर अस्पताल ले गया। जिससे उसका जीवन बच गया। इससे उन्हें बाइक एकारेंस शुरू करके लोगों की सेवा करने का आइडिया आया।

5 हजार मरीजों की राहत मिल चुकी है

करीमुल हक की बाइक एकरेंस अब इलाके में मशहूर हो चुकी है। जिन इलाकों में वे काम करते हैं, वहां सड़कों की हालत बहुत खराब है। ऐसे में वहाँ समय पर एकारेंस नहीं पहुँच पाती। ऐसे में कोई भी गंभीर स्थिति आने पर लोग करीमुल हक को मदद के लिए कॉल करते हैं और वे तुरंत बाइक लेकर अपने घर पहुंच जाते हैं। हक के मुताबिक वे अब तक करीब 5,000 मरीजों की जान बचा चुके हैं। मुफ्त बाइक एकारेंस सेवा देने के अलावा वे गांव वालों को मुफ्त फर्स्ट ऐड की ट्रेनिंग का कार्यक्रम भी चला रहे हैं।

Rating: 3.5 out of 5.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version